माँ का कर्ज-Best impression story In Hindi - Hindi Besters - Way To Motivation

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Sunday, 18 September 2016

माँ का कर्ज-Best impression story In Hindi

Maa Aur Beta Best story In Hindi - Moral Heart touching story in hindi


एक बेटा पढ लिख कर बहुत बडा बन गया |
पिता के स्वर्गवास के बाद माँ ने हर तरह
का काम करके उसे काबिल बनाया|
शादी के बाद पत्नी को माँ से शिकायत
रहने लगी के वो उन के स्टेटस मे फिट नही है
लोगो को बताने मे उन्हे सँकोच आता है
कि ये अनपढ है |

Maa Ka Karz - Best Impression story in Hindi 

बात बढने पर बेटे ने माँ से कहा- "माँ" मे
चाहता हु की मै अब काबिल हो गया हु
कोई भी कर्ज चुका सकता हु|
आज तुम मुझ पर किये गए अब तक के सारे
खर्च ब्याज के साथ बता तो मै वो अदा कर
दुगा
माँ ने सोच के कहा "बेटा" हिसाब लम्बा है
सोच के बताना पडेगा |
एक दिन जब सब सो रहे थे माँ ने एक लौटे
मे पानी लिया ओर कमरे मे आई , बेटा जहा
सो रहा था
उसकी एक और पानी डाल दिया बेटे ने करवट
ली तो दुसरी और पानी डाल दिया बेटे ने
जिस और करवट ली माँ ने उस और पानी
डाल दिया |
बेटा-(गुस्से मे) माँ क्या है? पानी क्यु डाल
रहीहो
माँ बोली' - बेटा तुने हिसाब मागा था पुरी
जिन्दगी का मै उसका हिसाब लगा री हूँ
की कितनी राते तेरे बचपन मै तेरे बिस्तर
गीला कर देने से जागते हुए काटी है ये तो
पहली रात है और तु घबरा गया बेटा ।
"माँ" की यह बात सुनकर काँप उठा उसे ये
अहसास हो गया की माँ का कर्ज आजीवन
नही उतारा जा सकता "माँ की ममता का
कोई मोल नही" ।
दोस्तों आप को यह कहानी अगर पसंद आई हो
तो
शेयर करे ।
.
ये कहानी लखन गढवी ने भेजी है जो एक सिविल इंजीनियर हे लखन आपका बहोत बहोत धन्यवाद हमारे साथ ये स्टोरी को भेजने के लिए और लोगो को पहुँचाने के लिए।

Agar aapke paas bhi esi koi impression kahani he to jarur hame mail kijiye mail karne k liye
Email-Vivekdarji07@gmail.com

2 comments: